Friday, June 21, 2024
Homeराज्यChardham Opening 2023 - इस दिन खुलेंगे केदारनाथ धाम के कपाट।

Chardham Opening 2023 – इस दिन खुलेंगे केदारनाथ धाम के कपाट।

Chardham opening 2023 – शिवरात्रि पर पंचकालीन गद्दीस्थल श्रीओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ में आयोजित धार्मिक समारोह में पंचांग गणना के बाद श्री केदारनाथ धाम के कपाट खोलने की तिथि तय की गई। मंदिर के कपाट 25 अप्रैल को प्रात: 6:20 पर श्रद्धालुओं के लिए खोले जाएंगे। 20 अप्रैल को भैरवनाथ जी की पूजा होगी। 21 अप्रैल को भगवान केदारनाथ जी की पंचमुखी डोली केदारनाथ प्रस्थान करेगी। इस दिन डोली विश्वनाथ मंदिर गुप्तकाशी विश्राम करेगी। 22 अप्रैल को डोली का रात्रि विश्राम फाटा और 23 अप्रैल को गौरीकुंड में होगा। 24 अप्रैल को डोली केदारनाथ धाम पहुंचेगी। 25 अप्रैल को प्रात: विधि-विधान से पूजा-अर्चना के बाद मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोल दिए जाएंगे। इस अवसर पर श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति, पंचगाई हक-हकूकधारियों सहित केदारनाथ तीर्थ पुरोहित समाज समेत कई लोग मौजूद रहे।

Chardham opening 2023
Chardham opening 2023

इससे पहले बसंत पंचमी पर बद्रीनाथ धाम कपाट खुलने की तिथि तय हो गई है। भगवान बद्री नारायण का धाम बद्रीनाथ धाम के कपाट 27 अप्रैल सुबह सात बजकर दस मिनट पर खुलेंगे। गाडू घड़ा की तेल कलश यात्रा 12 अप्रेल को निकाली जाएगी। गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट अक्षय तृतीया के दिन खुलेंगे। 2023 में अक्षय तृतीया 22 अप्रैल को पड़ रही है। अर्थात 22 अप्रैल 2023 से उत्तराखंड में चार धाम यात्रा की शुरुवात हो जाएगी। कोरोना काल के दशं के बाद साल 2022 में चार धाम यात्रा में रिकॉर्ड यात्री आये थे। 2023 में भी चार धाम यात्रा में रिकॉर्ड यात्री आने की संभावना है।

इन्हे भी पढ़े –
उत्तराखंड की प्रतियोगी परीक्षाओं में नकल करने वालों को मिलेगा यह कठोर दंड।
पहाड़ो में गणतुवा बरसों से करते हैं बाबा बागेश्वर धाम की तरह चमत्कार !
चौकड़ी उत्तराखंड उत्तराखंड में नए साल 2023 में घूमने लायक एक खास हिल स्टेशन
कुमाऊं के वीर योद्धा स्यूंराजी बोरा और भ्यूंराजी बोरा की रोमांचक लोक कथा।
बटर फेस्टिवल उत्तराखंड का अनोखा उत्सव जिसमे मक्खन ,मट्ठे ,दही की होली खेली जाती है।
उत्तराखंड की लोक कलाएं , उत्तराखंड की समृद्ध संस्कृति की पहचान !

Follow us on Google News Follow us on WhatsApp Channel
Bikram Singh Bhandari
Bikram Singh Bhandarihttps://devbhoomidarshan.in/
बिक्रम सिंह भंडारी देवभूमि दर्शन के संस्थापक और लेखक हैं। बिक्रम सिंह भंडारी उत्तराखंड के निवासी है । इनको उत्तराखंड की कला संस्कृति, भाषा,पर्यटन स्थल ,मंदिरों और लोककथाओं एवं स्वरोजगार के बारे में लिखना पसंद है।
RELATED ARTICLES
spot_img
Amazon

Most Popular

Recent Comments