उत्तराखंड गौरव सम्मान
राज्य

उत्तराखंड गौरव सम्मान 2022 मिलेगा इन पांच महान विभूतियों को

उत्तराखंड सरकार ने उत्तराखंड गौरव सम्मान पुरस्कार 2022 की घोषणा कर दी है। सरकार ने पा अलग-अलग क्षेत्रों में बेहतरीन योगदान देने वाले  पांच विभूतियों को पुरस्कार के लिए चुना है। इनमे से  तीन विभूतियों  को मरणोपरांत पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है। इस सम्मान के सम्बन्ध में शाशन ने आदेश जारी कर दिए हैं। इस शाशनादेश के अनुसार राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत कुमार डोभाल, भारतीय फिल्म सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष प्रसून जोशी जी को यह पुरस्कार दिया जाएगा। इसके अलावा स्व. जनरल बिपिन रावत, कवि, लेखक और गीतकार रहे स्व.गिरीश चंद्र तिवारी, साहित्य एवं पत्रकारिता के क्षेत्र में स्व. वीरेन डंगवाल को मरणोपरांत इस पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है।

उत्तराखंड गौरव सम्मान

उत्तराखंड गौरव सम्मान पुरस्कार , उत्तराखंड स्थापना दिवस 2021 से शुरू किये गए हैं।  सम्मान उत्तराखंड के सर्वोच्च पुरस्कारों में से एक हैं। पिछले साल भी पांच नामो की घोषणा हुई थी। विगत वर्ष कार्यक्रम न हो पाने के  कारण पिछले वर्ष के घोषित विभूतियों को भी इस साल ,उत्तराखंड गौरव सम्मान से सम्मानित किया जायेगा। पिछले साल पुरस्कार लिए  इन नामों की घोषणा की गई थी – पर्यावरण के क्षेत्र में डॉ.अनिल जोशी, साहसिक खेल के क्षेत्र में , बछेंद्री पाल, संस्कृति के लिए लोकगायक  नरेंद्र सिंह नेगी और साहित्य के क्षेत्र में रस्किन बांड के नाम की घोषणा की गई थी।  इसके अलावा  पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता स्वर्गीय नारायण दत्त तिवारी को मरणोपरांत इस पुरस्कार के लिए चयनित किया गया था।

इन्हे भी पढ़े _