खान-पान

पहाड़ी भट्ट || भट्ट की दाल के फायदे || पहाड़ी भट्ट की चटनी || Pahari bhatt || Pahari bhatt ki chatni

मित्रों इस लेख में हम आपको पहाड़ी भट्ट की चटनी की रेसिपी के बारे में जानकारी देंगे । भट्ट की चटनी से पहले हम यहां संक्षेप में काले भट्ट खाने के फायदे और उसमे पाए जाने वाले पोषक तत्वों के बारे लेख शुरू करके अंत मे स्वादिष्ट भट्ट की चटनी का आनंद लेंगे।

पहाड़ी भट्ट के बारे में –

पहाड़ी भट्ट ( Pahari bhatt ) , काले भट्ट  हमारे पहाड़ में उगाई जाने वाली मुख्य दाल है। यह बहुत ही पौष्टिक और स्वादिष्ट होते हैं। पहाड़ी काले भट्ट मुख्यतः एशिया , चीन की प्रजाति है। अमेरिका वाले भी पहाड़ी भट्ट को बहुत पसंद करते हैं। पहाड़ी भट्ट को ब्लैक सोयाबीन, ब्लैक राजमा आदि नामों से भी जानते हैं।

 भट्ट के व्यंजन :-

उत्तराखंड में काले भट्टो का सेवन अलग अलग रूपों में किया जाता है। काले भट्ट से कई प्रकार के पारम्परिक व्यंजन भी बनते है। काले भट्ट से बनने वाले  प्रमुख व्यंजन निम्न है –

  • भट्ट की दाल या भट्ट की चुड़कानी
  • भट्ट का चौसु
  • भट्ट के डूबके
  • भट्ट का जौला
  • भट्ट की चटनी
  • भुने भट्ट के स्नेक्स

“पहाड़ी भट्ट की चटनी की रेसीपी हम इस लेख के अंत मे आपके साथ सांझा करेंगे।”

 भट्ट की दाल के फायदे (Pahari bhatt ke fayde )

काले भट्ट एक सर्वगुणकारी दाल है। इसके सेवन के अनेक लाभ हैं। काले भट्ट खाने के फायदे निम्न प्रकार है –

  • काले भट्ट या पहाड़ी भट्ट में शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के सभी गुण होते हैं।
  • पहाड़ी भट्ट दिल के रोगियों के लिए सर्वोत्तम औषधि है। कोलोस्ट्रोल में भी लाभकारी हैं काले भट्ट ।
  • मधुमेह में सर्वगुण सम्पन्न है काले भट्ट की दाल
  • काले भट्ट में लेसिथिन नामक तत्व  पाया जाता है जो लिवर को स्वस्थ रखता है।
  •  भट्ट में कैल्शियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इस कारण हड्डियों से होने वाली समस्याओं के लिए काले भट्ट रामबाण हैं।
  • पहाड़ी काले भट्ट प्रोटीन का उन्नत श्रोत है। नॉनवेज भोजन के बराबर या उससे भी ज्यादा प्रोटीन काले भट्ट की दाल या चौसु में मिलता है
  • भट्ट वजन घटाने में मदद करते हैं।
  • इसमे फाइटो स्ट्रोजन्स और  जेन्स्टेन नामक तत्व पाए जाने के कारण ये कैंसर के लिए सर्वोत्तम है।

इसे भी पढ़िए :- कुमाउनी रायता उत्तराखंड का अल्टीमेट स्वाद।

पहाड़ी भट्ट में पोषक तत्व :-

पहाड़ी काले भट्ट में निम्न पोषक तत्व पाए जाते हैं :-

  1. प्रोटीन
  2. आयरन
  3. फास्फोरस
  4. मिनरल्स
  5. कैल्शियम
  6. वसा
  7. कार्बोहाइड्रेट
  8. मैग्नेशियम
  9. विटामिन -के
  10. रिबोफ्लेविन , कॉपर
  11. लेसिथिन
  12. फाइटो स्ट्रोजन्स और  जेन्स्टेन

इसे भी पढ़े :- पहाड़ी मसाले जम्बू और गंदरायन के बारे में रोचक जानकारी 

पहाड़ी भट्ट की चटनी | रेसिपी | सामग्री ( Pahari bhatt ki chatni recipe )

दोस्तों आपने भट्ट की चुड़कनी , भट्ट की दाल , भट्ट का चौसा , भट्ट का चौसु , भट्ट का जौला, भट्ट के डूबके के स्वाद का आनंद लिया होगा । आज आपको भट्ट की दाल का एक नये व्यंजन के बारे में बताइयेंगे , जिसका नाम है, पहाड़ी भट्ट की चटनी । इस नए व्यंजन का स्वाद बहुत ही खास और बेहतरीन है और बनाने में भी बहुत आसान है।

रोज एक सी सब्जी और दाल खा कर बोर हो गए तो ट्राय करें ,चटपटी भट्ट की चटनी जो स्वादिष्ट होने के साथ स्वास्थ्यवर्धक भी है।

पहाड़ी भट्ट

भट्ट की चटनी बनाने के लिए सामग्री :-

भट्ट की चटनी बनाने के लिए निम्न सामग्री की आवश्यकता होती है ,जो कि हमारे घर मे आसानी से उपलब्ध रहती है –

  • काले भट्ट – 1 कटोरी
  • हरी मिर्च – 3- 4 या स्वादनुसार
  • अदरक – 1 एक छोटा टुकड़ा
  • नीबू – 1या 2 स्वादानुसार ( आपको जितना खट्टा अच्छा लगता हो )
  • नमक – स्वादानुसार
  • हरा धनिया – सजाने के लिए।
  • लाल मिर्च – यदि ज्यादा चटपटा करना हो तो।

पहाड़ी भट्ट की चटनी की रेसिपी || Pahari bhatt ki chatni recipi :-

  • सर्वप्रथम ऊँची आंछ पर तवा गर्म कर ले
  • फिर आंछ मीडियम करके उसमे बीने हुए काले भट्ट डाल भून लें, भटों को तब तक भूने ,जब तक उसमे हल्की सी भुनी वाली खुशबू न आ जाय। जिसको हमारे पहाड़ में भुटेनी कहा जाता है। या देखे की लगभग सभी काले भट्ट में बीच से हल्की सफेद लाइन बन गई हो ,तो समझ ले भट्ट भून गए हैं।
  • उसके बाद भट्ट को अलग निकाल के मिक्सर में चटनी वाले जार में रख कर ,उसमे हरी मिर्च, कटी हुई अदरक ,और स्वादानुसार नमक डाल के पीस लें। भट्ट को एक राउंड सूखा पिसे उसके बाद ,सामग्री और पानी मिला कर पीस ले ( ग्राइंड कर लें। )
  • जितनी पतली चटनी आप पसंद करते हों,उतना महीन  पीस कर अलग निकाल लें । अब इसमे नीबू निचोड़ लें ,और लाल मिर्च मिला लें। और धनिये से सजा कर स्वाद ले पहाड़ी भट्ट की चटनी का।
  • मुझे व्यक्तिगत तौर पर भट्ट की चटनी लेसू रोटी ( गेंहू और मडुवे की मिक्स रोटी ) के साथ और गहत और सफेद भट्ट की जो पतली डाल होती है,भात के साथ , उनके साथ खाने में बहुत स्वादिष्ट लगती है।

नोट -उपरोक्त्त लेख में , भट्ट की दाल  के फायदे और भट्ट की दाल में पोषक तत्वों के बारे में जानकारी एक शैक्षणिक जानकारी के रूप में है। यह किसी डॉक्टर या स्पेशलिस्ट की सलाह पर आधारित नहीं है।

Bhatt ki daal online shopping | भट्ट की दाल ऑनलाइन कैसे मंगाये।

दोस्तों हमारे कई पहाड़ी मित्र परदेश में रहते हैं, और वहाँ अपने पारम्परिक व्यंजनों को बहुत मिस करते हैं ,याद करते हैं। यदि आप भट्ट की दाल को मिस कर रहे हैं तो ,आपकी इस समस्या का समाधान भी है हमारे पास । www.indshopclub.com नाम से एक ऑनलाइन पोर्टल है ,जिसके माध्यम से आप अपने सभी पसंदीदा पहाड़ी उत्पादों को ऑनलाइन मंगा सकते हो। भट्ट की दाल ऑनलाइन खरीदने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें ।

https://indshopclub.com/product/pahadi-kale-bhat-1kg/