Thursday, February 22, 2024
Homeराज्यउत्तराखंड की मानसखंड झांकी को मिला सारे देश में प्रथम स्थान !

उत्तराखंड की मानसखंड झांकी को मिला सारे देश में प्रथम स्थान !

26  जनवरी 2023  की परेड में शामिल उत्तराखंड की मानसखंड झांकी को सम्पूर्ण देश की झाकियों में प्रथम स्थान मिला है। मानसखंड झांकी में उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल के मंदिर ,उद्यान , लोककला ,लोक नृत्य का प्रदर्शन किया गया था।

उत्तराखंड की  झांकी में जागेश्वर धाम ,उद्यान में नेशनल कार्बेट पार्क , लोककला ऐपण बेलों  और विशेष सरस्वती चौकी का अंकन किया गया था। लोक नृत्य के रूप में छोलिया नृत्य करते हुए छोलिया दल ने सभी को आकर्षित किया।

आज उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी जी ने ट्वीट करके ख़ुशी उत्तराखंड की जनता साँझा की ….

गौरवशाली क्षण!
गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर कर्तव्य पथ पर निकाली गई झांकियों में देवभूमि के वैभवशाली सांस्कृतिक गौरव को परिलक्षित करती ‘मानसखण्ड’ पर आधारित उत्तराखण्ड की झांकी को प्रथम स्थान प्राप्त होने पर समस्त प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई।
उत्तराखंड की मानसखंड झांकी में सूचना विभाग के निर्देशक  K S चौहान के साथ कुल अट्ठारह कलाकार शामिल हुए थे। उत्तराखंड की समृद्ध संस्कृति से सुसज्जित झांकी को समस्त देश में प्रथम स्थान आने पर ,उत्तराखंड में एक नया आत्मविश्वास जागृत हो गया है। उम्मीद है यह आत्मविश्वास उत्तराखंड की समृद्ध संस्कृति को नई ऊंचाइयों पर ले जाने में सहायक होगा।
उत्तराखंड की मानसखंड झांकी
उत्तराखंड की मानसखंड झांकी राष्ट्रपति जी के साथ सामूहिक चित्र , फोटो साभार ट्विटर
इसे भी पढ़े –

यहाँ पढ़े उत्तराखंड के लोक नृत्य छोलिया नृत्य के बारे में विस्तृत जानकारी

Best Taxi Services in haldwani

उत्तराखंड की लोककला ऐपण के बारे में एक विस्तृत लेख।

शिव के बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक – जागेश्वर धाम ज्योतिर्लिंग

थकुली उडियार – एक ऐसी गुफा जिसके अंदर थाली बजने की आवाज आती है।

मरोज त्यौहार उत्तराखंड के जौनसार में मेहमाननवाजी को समर्पित लोकपर्व

कत्यूरी राजाओं को अपनी राजधानी जोशीमठ को छोड़ कर क्यों आना पड़ा ?

पहाड़ो में गणतुवा बरसों से करते हैं बाबा बागेश्वर धाम की तरह चमत्कार !

” ऊचेण ” एक ऐसी भेंट जो कामना पूरी होने के लिए देवताओं के निमित्त रखी जाती है।

हमारे व्हाट्सप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Follow us on Google News
Bikram Singh Bhandari
Bikram Singh Bhandarihttps://devbhoomidarshan.in/
बिक्रम सिंह भंडारी देवभूमि दर्शन के संस्थापक और लेखक हैं। बिक्रम सिंह भंडारी उत्तराखंड के निवासी है । इनको उत्तराखंड की कला संस्कृति, भाषा,पर्यटन स्थल ,मंदिरों और लोककथाओं एवं स्वरोजगार के बारे में लिखना पसंद है।
RELATED ARTICLES
spot_img
Amazon

Most Popular

Recent Comments