उत्तराखंड पलायन
मेरा कॉलम

उत्तराखंड पलायन के दर्द को उकेरती यह करुण कहानी – पलायन की व्यथा का अंत

उत्तराखंड पलायन पर आधारित एक मार्मिक कहानी -पालयन की व्यथा और अंत।  एक गांव जिसका नाम था बाणसोलि वहां बचपन के दो परमप्रिय मित्र अपनी मित्रमंडली में जगतू और दीपक जो लगभग 12-14 वर्ष की आयु के थे उनकी दोस्ती की मिशाल बाणसोली गांव तो क्या दूर दूर तक के गावों में प्रसिद्ध थी । […]