पलायन पर गढ़वाली कविता
भाषा

पलायन पर गढ़वाली कविता | लेखक प्रदीप बिजलवान बिलोचन

पलायन पर गढ़वाली कविता- टिहरी गढ़वाल के युवा लेखक प्रदीप बिजलवान बिलोचन जी के सहयोग से यहाँ उत्तराखंड की मूल समस्या पलायन पर गढ़वाली कविता प्रस्तुत कर रहें हैं।  ”  इं देवभूमि का देवी देवता, बोल किलै बिसराई तीन । सारी दुनिया मां मान, हमारू बढ़ाई जौंन, अगाड़ी बढ़न की होड़ मां, कुजानी क्या पौन […]