भाषा

पहाड़ी कहावतें || कुमाऊनी कहावतें || गढ़वाली कहावतें || गढ़वाली मुहावरें || कुमाऊनी मुहावरे || Pahadi kahawaten | Kumaoni Kahawaten || Garhwali Kahawaten

मित्रों इस लेख में पहाड़ी कहावतें , गढ़वाली कहावतें और कुमाऊनी कहावतें दोनों  हिंदी अर्थ के साथ लिखीं हैं।  कृपया पूरा लेख अंत तक देखें। और यदि इनके अलावा आपको कोई और कहावत आती है ,तो हमारे फेसबुक  पेज देवभूमि दर्शन पर जरूर भेजें।  (Pahadi kahawten ) गढ़वाली कहावतें | गढ़वाली ओखाण  ( पहाड़ी कहावतें […]

होली का मजा
संस्कृति

कुमाउनी होली उत्तराखंड की सांस्कृतिक पहचान | Essay on Kumaoni holi in hindi

होली सनातन परंपरा का प्रमुख त्यौहार है। भारत मे बहुत ही हर्षोल्लास के साथ यह त्यौहार मनाया जाता है। भारत के हर क्षेत्र राज्य में अलग अलग तरह से होली मनाई जाती है। इनमे से भारत मे दो होली उत्सव अत्यधिक प्रसिद्ध हैं। उत्तराखंड की कुमाउनी होली और बरसाने की होली। बरसाने की होली के साथ साथ […]

संस्कृति

कुमाऊनी महिलाओं की सांस्कृतिक पहचान “नाखक टुकम बे लंबा पिठ्या”कुमाऊनी रोली टीका! || Kumaoni culture in hindi

बचपन में हमारी अम्मा (दादी जी) जाड़ों में हल्दी ,सुहागा,आदि के मिश्रण से घर का पिठ्या रोली तिलक बनाती थी। फिर घर के शुभ कार्यों में वहीं तिलक प्रयोग में लाया जाता था। ब्राह्मण ज्यू आते थे, पाठ मंत्रोच्चार के साथ सभी को तिलक करते थे। और घर कि महिलाओं को नाख से माथे तक […]