कुमाउनी - गढ़वाली सांग लिरिक्स

देवी भगवती मैया भजन लिरिक्स ||पहाड़ी भजन लिरिक्स || कुमाउनी भजन लिरिक्स || Devi bhagwati maiya bhajan lyrics || maiya teri jay ho kumauni bhajan lyrics

नवरात्रि में भजन गाने के लिए पहाड़ी भजन के लिरिक्स का एक संकलन पोस्ट कर रहे हैं। इसमे देवी भगवती मैया भजन लिरिक्स और मैया तेरी जय हो भजन लिरिक्स हैं।

देवी भगवती मैया भजन लिरिक्स

|| Devi bhagwati maiya lyrics

प्रस्तुत पहाड़ी भजन , कुमाऊनी भाषा के प्रसिद्ध गायक स्वर्गीय श्री पवेंद्र सिंह कार्की उर्फ पप्पू कार्की जी द्वारा गया है। नवरात्रि 2021 में माता की भक्ति के लिए सर्वोत्तम भजन है।

।।ॐ।।

देवी भगवती मैया 

देवी भगवती मैया ,कोटगाड़ी की देवी मैया -2

दैण है जाए, दैण है जाए ….

त्यार दरवार आयु सुफल हाय्ये।

हो मैया ……..

देवी भगवती मैया ,कोटगाड़ी की देवी मैया -2

दैण है जाए, दैण है जाए।

त्यार दरवार आयु सुफल हाय्ये।

जय जय माँ

जय जय माँ

जय जय माँ

जय जय माँ

हे नौ बैन्यू की दुर्गा तेरी पूजा करुलो।

हे नौ बैन्यू की दुर्गा तेरी पूजा करुलो।

ढोल दमो ली बेर त्यारा द्वारा में उलो।।

ढोल दमो ली बेर त्यारा द्वारा में उलो।।

दी जलोला ,निशाण देवी

दी जलोला ,निशाण देवी

तवीके चडूलो , तवीके चडूलो।।

त्यार दरबार आयूँ सुफल है जाए।

है दनोउ को अत्याचार जब जब भै छो

है दनोउ को अत्याचार जब जब भै छो

तब तब ते मैया ले जन्म ल्योछो।

तब तब ते मैया ले जन्म ल्योछो।

महिषासुर शुम्भ नि शुम्भ ,

महिषासुर शुम्भ निशुम्भ वध करछो।

वध करछो…….

त्यार दरबार आयूँ  सुफल हाय्ये…

जय माँ .. जय माँ …जय माँ ..

त्यार मैया भगतो की भीड़

त्यार मैया भगतो की भीड़ ।

हर मनेकी तू जानछे कै कसी पीड़

हर मनेकी तू जानछे कै कसी पीड़।।

दैण है जाए ईजा…..

दैण है जाए इजू……

विनीति सुनिए ।

त्यार दरबार आयूँ सुफल है जाए।

त्यार दरबार आयूँ सुफल है जाए।।

हो मैया ….

देवी भगवती मैया ,कोटगाड़ी की देवी मैया -2

दैण है जाए, दैण है जाए ….

त्यार दरवार आयु सुफल हाय्ये।

।।ॐ।।

 देवी भगवती मैया के गायक और गीत के बारे में –

गायक :- स्वर्गीय श्री पप्पू कार्की

गीत :-  स्वर्गीय पप्पू कार्की जी।

वीडियो लिंक :- देवी भगवती मैया गीत के वीडियो यहां देखें

पहाड़ी भजन

पहाड़ी भजन || कुमाउनी भजन || मैया तेरी जय हो लिरिक्स

।।ॐ।।

बोलो भगवती मैया की जय ……

ऊँचा धुरा रुनया मैया तेरी जै जै हो।

तू दैणी है जाए , म्यार कुले की देवी हो।

तू दैणी है जाए , म्यार कुले की देवी हो।।

ऊँचा धुरा रुनया मैया तेरी जै जै हो।

मैया तेरी जै जै हो

मैया तेरी जै जै हो।।

तू भगवती , तू बाराही ,तू छे पूर्णागिरि माँ।

धारी देवी सुरकंडा तू ,तुई कुंजापुरी माँ।।

ऊँचा धुरा रुनया मैया तेरी जै जै हो।

तू दैणी है जाए , म्यार कुले की देवी हो।

आ ..आ .. हो..हो..

घर कुड़ी की पति रखछि सुणछि मैया घात।

घर कुड़ी की पति रखछि सुणछि मैया घात।

सौ सुखयार रख सबुके  सुफल करछी काज।।

सौ सुखयार रख सबुके  सुफल करछी काज।।

सुणछि मैया घात…..

सुफल करछी काज….

सुफल करछी काज….

तू गंगोत्री, तू यमुनोत्री , तुई चन्द्रबदनी माँ।

कामाख्या कसार देवी , तुई छै जयंती माँ।।

ऊँचा धुरा रुनया मैया तेरी जै जै हो।

तू दैणी है जाए , म्यार कुले की देवी हो।

आ. आ..आ….

ढोल दमुआ नगाड़ा, भाकर बाजी रया।

ढोल दमुआ नगाड़ा, भाकर बाजी रया।

तेरो डोलो छाजी रो मैया म्याल कौतिक लागी रया।।

तेरो डोलो छाजी रो मैया म्याल कौतिक लागी रया।।

भाकर बाजी रया….

म्याल कौतिक लागी रया….

म्याल कौतिक लागी रया….

तू महाकाली ,तू चंडिका ,तुई छै कोटगाड़ी माँ।

दुनागिरी संतला छै, तू नंदा सुनंदा माँ।।

ऊँचा धुरा रुनया मैया तेरी जै जै हो।

तू दैणी है जाए , म्यार कुले की देवी हो।

तू दैणी है जाए , म्यार कुले की देवी हो।।

आगहिल पाछिल आन बान , डोल छाजी रौ बीच मा।

आगहिल पाछिल आन बान , डोल छाजी रौ बीच मा।।

डोल भतेरा शक्ति तेरी हरछि सबुकी पीड़ माँ।

डोल भतेरा शक्ति तेरी हरछि सबुकी पीड़ माँ।

डोल छाजी रौ बीच मा…

हरछि सबुकी पीड़ माँ ….

तू झूमा धुरी ,तू मनसा माँ ,तू माता कनार।

फूल फूलनी होए माई आया त्यारा द्वार।।

ऊँचा धुरा रौनया मैया तेरी जय जय हो हो।

तू दैणी है जाए ……

।।ॐ।।

पहाड़ी भजन “मैया तेरी जय जय हो” के गायक व वीडियो लिंक –

गायक –  ज्योति उप्रेती सती

मैया तेरी जय जय हो भजन वीडियो –

देवी सुरकंडा माता की कहानी पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

माँ ज्वाल्पा देवी के बारे में अधिक जानने के लिए यहां क्लिक करें।

अंत मे :- 

मित्रो उपरोक्त पोस्ट में हमने माता के पहाड़ी भजन लिरिक्स , कुमाउनी भजन लिरिक्स का संकलन किया है।

नवरात्रि में माँ के गुणगान के लिए इन भजनों का खूब प्रयोग करें। माता रानी आप सभी का कल्याण करें।

Devi Bhagwati maiya kumaoni bhajan lyrics || maiya teri jay ho bhajan lyrics || पहाड़ी भजन कीर्तन Lyrics || कुमाऊनी भजन कीर्तन lyrics