लक्ष्मण सिद्ध मंदिर देहरादून | देहरादून का लक्ष्मण मंदिर || Laxman siddh temple Dehradun in hindi | Lakshman sidh mandir Dehradun

देहरादून में 4 सिद्ध प्रसिद्ध हैं। और इन 4 सिद्धों के चार मंदिर या पीठ देहरादून के 4 कोनो में स्थापित हैं। देहरादून के 4 सिद्धों में , लक्ष्मण सिद्ध , कालू सिद्ध, मानक सिद्ध, मांडुसिद्ध हैं। इनमें से इस लेख में हम लक्ष्मण सिद्ध  के बारे में बताएंगे। (laxman siddh ,mandir dehradun)

देहरादून से 12 किलोमीटर दूर ऋषिकेश मार्ग पर स्थित लक्ष्मण सिद्ध मंदिर , लक्ष्मण बाबा के भक्तों के लिए आस्था और विश्वास का प्रमुख केंद्र है। ऐसी मान्यता है, कि भगवान दत्तात्रेय ने लोककल्याण के लिए अपने 84 शिष्य बनाये थे। और उन्हें अपनी सभी शक्तियां प्रदान की थी। कालांतर में ये चौरासी शिष्य ,84 सिद्ध के नाम से जाने गए। और इनके समाधि स्थल सिद्धपीठ या सिद्ध मंदिर बन गए। इन्ही 84 सिद्धों में देहरादून के चार सिद्ध भी हैं। और इन चारों में लक्ष्मण बाबा  भी हैं।

एक अन्य पौराणिक कथा के अनुसार , दशरथ पुत्र और भगवान राम के अनुज लक्षमण ने , रावण और मेघनाथ की ब्रह्म हत्या के पाप से बचने के लिए इस स्थान पर तपस्या की थी। (laxman siddh ,mandir dehradun)

कहते हैं कि यहाँ सच्चे मन से मांगी सभी इच्छाएं पूर्ण होती हैं। हर रविवार को यहाँ भक्तों की भीड़ लगी रहती है।यहाँ प्रसाद में गुड़ चढ़ाने की परंपरा है।लक्ष्मण सिद्ध मंदिर देहरादून की गद्दी गुरु परम्परा पर आधारित है। यहां की गद्दी पर आसीन व्यक्ति को महंत कहा जाता है।महंत यहां की सम्पूर्ण व्यवस्था देखते हैं।

जितना सुंदर है, नैनीताल जिले का बेतालघाट, उतना ही ही रहस्यमयी भी है। जानिए रहस्यमयी बेताल की कहानी ..यह क्लिक कीजिये।

लक्ष्मण सिद्ध

सिद्धपीठ परिसर में ब्रह्मलीन हो चुके संतों,की समाधियां स्थित हैं। यहाँ भक्तगण अपनी आस्था प्रकट करते हैं। देहरादून लक्ष्मण बाबा के मंदिर में,हर साल अप्रैल के अंतिम रविवार को भव्य मेला होता है। सिद्धपीठ के परिसर में रुद्राक्ष का एक वृक्ष लगभग 200 साल पुराना है। इसमे एकमुखी रुद्राक्ष से लेकर 16 मुखी रुद्राक्ष मिल जाते हैं।

देहरादून के चार सिद्ध मंदिरों को देहरादून के चार धाम भी बोलते हैं। देहरादून के चार सिद्ध ,शहर के चार कोनो में स्थित है। बाबा कालू सिद्ध की समाधि देहरादून के कलुवाला जंगल में स्थित है। मानक सिद्ध की पीठ ,या मानक सिद्ध मंदिर ,देहरादून में प्रेमनगर के पास ,कार्रवारी गावँ में स्थित है। और मांडुसिद्ध कि समाधि,पौधा और आमवाला क बीच जंगल मे स्थित है। बाबा लक्ष्मण सिद्ध की समाधि कुवांवाला गाव के निकट जंगल में स्थित है । मांडुसिद्ध में बसंत पंचमी के दिन मेला लगता है।

इसे भी पढ़े :- उत्तराखंड का दिव्य पेय पहाड़ी फल हिसालू और हिसर का शेक।

लक्ष्मण सिद्ध कैसे पहुचें –

लक्ष्मण सिद्ध मंदिर या देहरादून के 4 सिद्ध , देहरादून में धूमने लायक बहुत अच्छे धार्मिक स्थल हैं। देहरादून के इन चार सिद्ध स्थलों पर रविवार के दिन जाने का विशेष महत्व है। आप अपने परिवार के साथ देहरादून के प्रसिद्ध धर्मिक स्थल पर सुकून के कुछ पल बिता सकते हैं।

लक्ष्मण सिद्ध जाने के लिए देहरादून से बस मार्ग और रेल मार्गऔर वायु मार्ग से आवागमन उपलब्ध है। हर्रावाला तक बस ऑटो टैक्सी, विक्रम आदि का सहारा लेना पड़ेगा। वहाँ से आगे 1 किमी पैदल जाना पड़ता हैं। लक्ष्मण सिद्ध जाने के लिए, वायु मार्ग और रेल भी आस पास ही व्यवस्थित हैं।

(laxman siddh ,mandir dehradun)

टीम देवभूमी दर्शन के व्हाट्सप्प ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

diwali decuration items

Related Posts