Tuesday, March 5, 2024
Homeसमाचार विशेषकंडोलिया पार्क पौड़ी गढ़वाल की नई पहचान।

कंडोलिया पार्क पौड़ी गढ़वाल की नई पहचान।

कंडोलिया पार्क  पौड़ी गढ़वाल की नई पहचान। जी हा गुरुवार 28 जनवरी को मुख्मंत्री जी के कर कमलों द्वारा, यह थीम पार्क पौड़ी की जनता को समर्पित कर दिया गया।

कंडोलिया पार्क के बारे में –

यह उत्तराखण्ड राज्य के पौड़ी गढ़वाल में स्थित है। पौड़ी गढ़वाल के कमद नामक स्थान पर देवदार के घने पेड़ों के बीच बसा है।यह  पार्क भारत का सबसे ऊंचा पार्क है। यह भारत का पहला थीम पार्क है। ये  1750 मीटर के हाई अल्टिट्यूड पर बना है।पौड़ी गढ़वाल के जिलाधिकारी 2019 मे कंडोलिया पार्क को नया रूप देने की योजना बनाई ,इस थीम पार्क को बनाने में पौड़ी गढ़वाल के जिलाधिकारी महोदय का महत्वूर्ण योगदान है।28 जनवरी 2021 को माननीय मुख्यमंत्री जी ने इसका उद्घाटन किया। मुख्यमंत्री महोदय ने उत्तघाटन अवसर पर बताया कि, आज तक हमारा राज्य धार्मिक टूरिज्म पर केंद्रित था। अब राज्य को एडवेंचर टूरिज्म की तरफ बड़ा रहे हैं।

विंटर टूरिज्म को राज्य में बड़ावा दिया जाएगा। आने वाले समय में एडवेंचर टूरिज्म पर और ध्यान दिया जाएगा। आने वाले समय में सतपुली में सतपुली झील में भी टिहरी झील की तर्ज पर सी-प्लेन की योजना है।मुख्यमंत्री महोदय ने कहा कि पौड़ी गढ़वाल के टूरिज्म को नए पंख लगाएगा।

यह भी पढ़े-भारत का सबसे पुराना राष्ट्रीय उद्यान जो बना खास बंगाल टाइगर के लिए

Kandoliya park, photo credit-Google
Best Taxi Services in haldwani

 

इस पार्क की विशेषताएं-

  • इस पार्क की सबसे बड़ी विशेषता लेजर लाइट सिस्टम तथा म्यूजिकल फाउंटेन सिस्टम है।
  • लेजर लाइट मे कंडोलिया पार्क की छटा देखते ही बनती है।
  • यह पार्क भारत का सबसे ऊंचा पार्क है।
  • यह पार्क भारत का पहला थीम पार्क है।
  • इसमें हर  उम्र वर्ग के लिए अलग अलग व्यवस्था है।
  • पार्क उत्तरकाशी के कोटि बनाल शैली पर आधारित है।
  • यहां पर्यटकों के लिए स्विस काटेज बने हैं।
  • थीम  पार्क में स्थानीय मनोरंजन की व्यवस्था भी है।
  • यहां जिम, स्केटिंग एवं रिंग की व्यवस्था भी है।
  • इस पार्क में स्थानीय पहाड़ी संस्कृति को जीवंत रूप देने का पवित्र प्रयास किया गया है।

एक नजर –पहाड़ी समान कि ऑनलाइन वेबसाइट

आर्टिकल को समझाने हेतु, गूगल से ली गई फोटो, कंडोलिया पार्क
कंडोलिया पार्क , लेजर शो।
Image credit-Google

 

यहां भी देखे…….कोटि बनाल शैली , उत्तराखण्ड की विशेष वस्तु शैली।

कांडोलिया पार्क
कंडोलिया पार्क, फोटो साभार गूगल
Follow us on Google News
Bikram Singh Bhandari
Bikram Singh Bhandarihttps://devbhoomidarshan.in/
बिक्रम सिंह भंडारी देवभूमि दर्शन के संस्थापक और लेखक हैं। बिक्रम सिंह भंडारी उत्तराखंड के निवासी है । इनको उत्तराखंड की कला संस्कृति, भाषा,पर्यटन स्थल ,मंदिरों और लोककथाओं एवं स्वरोजगार के बारे में लिखना पसंद है।
RELATED ARTICLES
spot_img
Amazon

Most Popular

Recent Comments