मंदिर

उत्तरकाशी का त्रिशूल- एक आदिकालीन दिव्यास्त्र ,जो स्थापित है उत्तरकाशी के शक्ति मंदिर में (Uttarkashi trishul

हिमालय की रमणीय घाटी में उत्तरकाशी एक ऐसा मनोहारी स्थल है , जहाँ स्वंय महादेव भोलेनाथ निवास करते हैं। माँ गंगा जहाँ असि -वरुणा से अठखेलियां करती हैं। यहां के शांत और निश्छल वातावरण में मानव ह्रदय अभूतपूर्व शांति का अनुभव करता है। उत्तरकाशी  को कलयुग की काशी और मुक्तिक्षेत्र कहा गया है। यहाँ ब्रह्मा […]