Wednesday, April 24, 2024
Homeराज्यहल्द्वानी में पहली बार होने जा रहा है महिला रामलीला का मंचन

हल्द्वानी में पहली बार होने जा रहा है महिला रामलीला का मंचन

Haldwani me mahila Ramleela

हल्द्वानी में महिला रामलीला – कुमाऊँ के सबसे बड़े आर्थिक, शैक्षिक, व्यापारिक एवम आवासीय केंद्र यानी “कुमाऊँ के प्रवेश द्वार” कहे जाने वाले हल्द्वानी में पहली बार होने जा रहा है महिला रामलीला का मंचन। जी हां साथियों इस बार की रामलीला में समस्त किरदार, भगवान राम, लक्ष्मण, भरत शत्रुघ्न व रावण सहित सभी किरदार महिलाओं द्वारा निभाये जा रहे हैं। 2 अप्रैल 2023 से प्रतिदिन शाम 5 बजे से 8 बजे तक लोग इस रामलीला का आनंद उठा पाएंगे। कुमाऊ में रामलीला का मंचन बड़े ही हर्षोल्लास से मनाया जाता है, यहां हर साल हजारों जगहों पर रामलीला होती है इन रामलीला में हल्द्वानी, अल्मोड़ा और नैनीताल की रामलीला सबसे प्रसिद्ध है।

Hosting sale

हालांकि कुमाऊं के इतिहास में यह पहली बार नहीं है कि जहां महिलाओं द्वारा रामलीला का मंचन किया जाएगा इससे पहले भी कई बार रामलीला का मंचन कई शहरों में हुआ है लेकिन हल्द्वानी के इतिहास में उत्थान मंच में यह पहली बार है जो यहां के लोगों के लिए एक अलग अनुभव होगा। आपको बता दें कि उत्थान मंच में होने वाली इस महिला रामलीला का मंचन पुनर्नवा महिला समिति के तत्वाधान में हो रहा है। 2 अप्रैल 2023 से 11 अप्रैल तक चलेगा।

हल्द्वानी में महिला रामलीला
हल्द्वानी में महिला रामलीला

इन्हे भी पढ़े: ये हैं साल 2023 के सबसे शक्तिशाली भारतीय ।

हल्द्वानी में महिला रामलीला का कार्यक्रम इस प्रकार होगा-

  • रविवार दिनाँक 2 अप्रैल 2023- नारद मोह, रावण, कुम्भकर्ण एवं विभीषण को वरदान।
  • सोमवार दिनाँक 3 अप्रैल 2023- श्री राम जन्म एवं ताड़िका वध।
  • मंगलवार दिनाँक 4 अप्रैल 2023- सीता स्वयंवर एवं परशुराम- लक्ष्मण संवाद।
  • बुधवार दिनाँक 5 अप्रैल 2023-श्री राम वनवास एवं श्रीराम- भरत मिलाप।
  • गुरुवार दिनाँक 6 अप्रैल 2023- सूर्पनखा नासिका छेदन, खर-दूषण वध एवं सीता हरण।
  • शुक्रवार दिनाँक 7 अप्रैल 2023- श्री राम- सुग्रीव मैत्री एवं बाली वध।
  • शनिवार दिनाँक 8 अप्रैल 2023- लंकादहन।
  • रविवार दिनाँक 9 अप्रैल 2023- अंगद- रावण संवाद, लक्ष्मण शक्ति एवं लक्ष्मण जागृति।
  • सोमवार दिनाँक 10 अप्रैल 2023- कुम्भकर्ण वध एवं मेघनाद वध।
  • मंगलवार दिनाँक 11 अप्रैल 2023- अहिरावण वध, रावण वध एवं श्रीराम राज्याभिषेक।
Follow us on Google News Follow us on WhatsApp Channel
Bikram Singh Bhandari
Bikram Singh Bhandarihttps://devbhoomidarshan.in/
बिक्रम सिंह भंडारी देवभूमि दर्शन के संस्थापक और लेखक हैं। बिक्रम सिंह भंडारी उत्तराखंड के निवासी है । इनको उत्तराखंड की कला संस्कृति, भाषा,पर्यटन स्थल ,मंदिरों और लोककथाओं एवं स्वरोजगार के बारे में लिखना पसंद है।
RELATED ARTICLES
spot_img
Amazon

Most Popular

Recent Comments