Monday, May 20, 2024
Homeव्यक्तित्वबॉबी पंवार - रोजगार की लड़ाई से लोकसभा के चुनावी समर तक।

बॉबी पंवार – रोजगार की लड़ाई से लोकसभा के चुनावी समर तक।

लोकसभा चुनाओं का बिगुल बज चुका है। तिथियां तय हो चुकी हैं। सभी उम्मीदार लोकसभा की उम्मीदारी के लिए अपनी दावेदारी मजबूत कर रहें हैं। उत्तराखंड की सभी लोकसभा सीटों से चिर-परिचित उम्मीदवार मैदान में उतरे हैं वही उत्तराखंड की टिहरी लोकसभा से बॉबी पंवार (Boby panwar ) नामक युवा ने निर्दलयी चुनावी ताल ठोक कर सब को चौका दिया है। चौंकाया ही नहीं बल्कि पर्चा दाखिल करने के दिन अथाह भीड़ के साथ शक्ति प्रदर्शन करके विरोधियों को सोचने पर मजबूर कर दिया।

बॉबी पंवार  का प्रारम्भिक जीवन –

सामान्य कृषक परिवार से संबंध रखने वाले ,बॉबी पंवार ( Boby panwar ) उत्तराखंड के जौनसार क्षेत्र के लाखामंडल के रहने वाले हैं। लाखामंडल उत्तराखंड के देहरादून जिले के चकराता तहसील में पड़ता है। प्रारम्भिक पढाई पूरा करने के बाद उन्होंने डाकपत्थर के डिग्री कॉलेज से स्नातक की डिग्री पूर्ण की। फिर वे उत्तराखंड की सरकारी नौकरी की तैयारी करने लगे ,किन्तु सरकारी भर्तीयों में लगातार धांधली ,भ्र्ष्टाचार के चलते उन्होंने जल्द ही बेरोजगार संघ से जुड़ने का निर्णय ले लिया।

बेरोजगार संघ के अध्यक्ष से सांसद प्रतिनिधि तक –

सन 2018 में बेरोजगार संघ से जुड़ने के बाद बॉबी पंवार ने सरकार और भ्र्ष्टाचारीयों के खिलाप मोर्चा खोल दिया। वे भर्तियां ना निकालने और भर्ती परीक्षाओं में अनिमित्ताओं को लेकर लगातार लामबंद रहे। भ्र्ष्टाचार के प्रति उनकी आक्रमकता देखते हुए बेरोजगार संघ ने उन्हें संघ का अध्यक्ष घोषित कर दिया।

2018 में ही बॉबी ने भर्तियां के लिए सचिवालय का कूच भी किया। कई बार लाठीचार्ज का सामना भी करना पड़ा। यह बॉबी पंवार और बेरोजगार संघ की कोशिशों का नतीजा है कि समूह ग की भर्तियों होने वाले इतने बड़े भ्र्ष्टाचार का खुलासा हुवा। कई भ्र्ष्टाचारी पकडे गए। उत्तराखंड समूह ग की भर्तियों की जाँच जहाँ STF कर रही है ,वहीं उत्तराखंड अधीनस्थ चयन आयोग के तत्कालीन मुखिया संतोष बडोनी को अपनी कुर्सी से हाथ धोना पड़ा।

Best Taxi Services in haldwani

बॉबी पंवार और उत्तराखंड के अन्य कई युवाओं के संघर्ष का नतीजा है कि वर्तमान में समूह ग के पेपर काफी हद तक धांधली रहित हो गए हैं। बॉबी पंवार और उनकी टीम सरकार की रोजगार नीति के खिलाप उन्हें घेरती रहती है। लगातार भर्ती परीक्षाओं और युवाओं के लिए लड़ने वाले बॉबी को कई बार जेल की यात्रा भी करनी पड़ी। उनके ऊपर केस भी चल रहे हैं। फिर भी वे युवाओं के हित के लड़ते रहते हैं।

अभी हाल ही में बॉबी पंवार ने टिहरी लोकसभा से लोकसभा चुनाव लड़ने का फैसला लिया है। वे टिहरी लोकसभा से भाजपा की दो बार की सांसद माला राज्यलक्ष्मी और कांग्रेस के गुनसोला के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे।

बॉबी पंवार चुनावी पर्चा रैली
फोटो -बॉबी पंवार सोशल मीडिया हैंडल

मोदी मैजिक से पार पाना चुनौती होगी –

बॉबी ने टिहरी लोकसभा से पर्चा दाखिल करके और नामंकन के दिन बॉबी पंवार को मिले युवाओं के समर्थन और प्यार से राष्ट्रीय पार्टियों के लिए चुनौती खड़ी कर दी है। और पहाड़ में बॉबी को अच्छा प्यार और समर्थन मिलता दिख रहा है। बॉबी के चुनाव उतरने से टिहरी लोकसभा सीट की लड़ाई रोचक हो गई है।

बॉबी की युवाओं के बीच बढ़ती लोकप्रियता और वर्तमान सांसद माला राजयलक्ष्मी के प्रति जनता का गुस्सा बॉबी के लिए फायदेमंद हो सकता है। मगर उनकी राह इतनी आसान भी नहीं है। जहाँ संसदीय क्षेत्र बहुत बड़ा होता है। कम समय में सबसे दिल में बस जाना असंभव सा लगता है। वही उनकी जीत के रस्ते में मोदी मैजिक सबसे बड़ी चुनौती रहेगी। पिछले कुछ समय (2014 ) से मोदी के नाम पर वोट पड़ने का ट्रेंड चल रहा है।

जिसके दम पर सत्ताधारी पार्टी का कोई भी व्यक्ति आसानी से चुनाव जीत जा रहा है। मोदी जी सामान्य जनता की आखों में ऐसी सम्मोहनी छवि गढ़ दी है ,जिसका अभी टूटना मुश्किल लग रहा है। यदि बॉबी इस मैजिक से पार पा लेते हैं तो ,उनकी राह आसान हो जाएगी। बॉबी पंवार का संघर्ष जीतेगा या मोदी जी की लोकप्रिय छवि ! ये तो भविष्य बताएगा !

इन्हे भी पढ़े _

जागेश्वर धाम उत्तराखंड के पांचवा धाम का इतिहास और पौराणिक कथा।

घेंजा , उत्तराखंड का खास लोकपर्व ! जो अब विलुप्ति के द्वार पर खड़ा है।

हमारे व्वाहट्सप ग्रुप से जुड़े। यहाँ क्लिक करें।

Follow us on Google News Follow us on WhatsApp Channel
Bikram Singh Bhandari
Bikram Singh Bhandarihttps://devbhoomidarshan.in/
बिक्रम सिंह भंडारी देवभूमि दर्शन के संस्थापक और लेखक हैं। बिक्रम सिंह भंडारी उत्तराखंड के निवासी है । इनको उत्तराखंड की कला संस्कृति, भाषा,पर्यटन स्थल ,मंदिरों और लोककथाओं एवं स्वरोजगार के बारे में लिखना पसंद है।
RELATED ARTICLES
spot_img
Amazon

Most Popular

Recent Comments