कत्यूरी
इतिहास कुछ खास

कत्यूरी राजाओं को अपनी राजधानी जोशीमठ को छोड़ कर क्यों आना पड़ा ?

जोशीमठ का उत्तराखंड में पौराणिक महत्व के साथ ऐतिहासिक महत्त्व भी है। अंग्रेजी लेखकों का मानना है कि ,कत्यूरी राजा पहले जोशीमठ में रहते थे। वे वहां से कत्यूर आये। कहते हैं सातवीं शताब्दी तक उत्तराखंड में बुद्ध धर्म का प्रचार था। ह्यूनसांग अपनी पुस्तक में लिखा है ,गोविषाण और ब्रह्मपुर ( लखनपुर ) दोनों […]

जोशीमठ
इतिहास

जोशीमठ का इतिहास | Joshimath ka itihas | History of Joshimath in hindi

जोशीमठ कहां स्थित है । जोशीमठ का इतिहास जोशीमठ का उत्तराखंड के राजनीति और सांस्कृतिक इतिहास  में महत्वपूर्ण भूमिका रही है।  ऐतिहासिक एवं धार्मिक महत्व का यह स्थान ,उत्तराखंड के गढ़वाल मंडल के चमोली जनपद में पैनखंडा परगने में समुद्रतल से 6107 फीट उचाई पर स्थित है। चमोली -बद्रीनाथ मार्ग पर कर्णप्रयाग से 75 किमी […]