संस्कृति

फूलदेई के गीत | फुलदेई की शुभकामनाएं | Phool dei photo |phuldei wishes | phuldai | image | Happy phool dei 2023 |Phuldai song in hindi

फूलदेई ( phool dei ) उत्तराखंड का प्रसिद्ध लोक पर्व है। प्रकृति को समर्पित इस प्रसिद्ध त्योहार के दिन छोटे छोटे बच्चे अपने थालियों में या झोले में फूल रख कर ,सबकी देहरी पर “फूलदेई छम्मा देई ” फुलदेई के गीत गाते हैं। लोगो को शुभ आशीष देते है।यह त्यौहार चैत्र संक्रांति के दिन मनाया जाता है। इसी दिन से हिंदू नववर्ष शुरू होता है।

प्रस्तुत लेख में फूलदेई के गीत और पारंपरिक कविताएं व फूलदेई की शुभकामना संबधित फोटो , का संकलन किया है। यदि अच्छा लगे तो शेयर अवश्य करें।

फूलदेई के गीत
Phuldai image 2023 

फूलदेई के पारंपरिक कुमाउनी गीत :-

उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में बच्चे फूल देई के दिन लोगो की देहरी पर फूल डाल कर आशीष गीत गाते हैं। जो इस प्रकार है। इस गीत के माध्यम से बच्चे घर की देहरी पर फूल डाल कर प्रणाम करते हैं। और घर की खुशहाली और सुख सम्रद्धि के लिए प्रार्थना करते हैं।

फूलदेई छम्मा देई ।

फूल देई छम्मा देई ।

दैणी ,द्वार भर भकार।

यो देलि कु नमस्कार ।

जतुके दियाला ,उतुके सई ।।

फुलदेई की शुभकामनाएं
Happy phuldai photo

फूलदेई के पारंपरिक गढ़वाली गीत :-

गढ़वाल क्षेत्र में छोटे – छोटे बच्चे , परिवार के लिए शुभता की प्रार्थना करते हुए गाते हैं –

ओ फुलारी घौर।

जै माता का भौंर ।।

क्यौलिदिदी फुलकंडी गौर ।

डंडी बिराली छौ निकोर।।

चला छौरो फुल्लू को।

खांतड़ि मुतड़ी चुल्लू को।।

हम छौरो की द्वार पटेली।

तुम घौरों की जिब कटेली।।

phuldai wishesh
Phuldai wishesh

चला फुलारी फूलों को , फूलदेई का एक लोकप्रिय गढ़वाली गीत |

Chala fulari song lyrics

गढ़वाली लोक गायक श्री नरेन्द्र सिंह नेगी जी का एक प्रसिद्ध गीत है,चला फुलारी फूलों को । इस गीत पांडवास की टीम ने एक नए रुप में पेश किया था। जिसे लोगों ने काफी सराहा।

चला फुलारी फूलों को

सौदा-सौदा फूल बिरौला।

        हे जी सार्यूं मा फूलीगे ह्वोलि फ्योंली लयड़ी

मैं घौर छोड्यावा ।

हे जी घर बौण बौड़ीगे ह्वोलु बालो बसंत

मैं घौर छोड्यावा ।।

हे जी सार्यूं मा फूलीगे ह्वोलि

चला फुलारी फूलों को

सौदा-सौदा फूल बिरौला

भौंरों का जूठा फूल ना तोड्यां ।

म्वारर्यूं का जूठा फूल ना लायाँ।

ना उनु धरम्यालु आगास

ना उनि मयालू यखै धरती

अजाण औंखा छिन पैंडा

मनखी अणमील चौतर्फी

छि भै ये निरभै परदेस मा तुम रौणा त रा

मैं घौर छोड्यावा ।।

हे जी सार्यूं मा फूलीगे ह्वोलि

फुल फुलदेई दाल चौंल दे

घोघा देवा फ्योंल्या फूल

घोघा फूलदेई की डोली सजली।।

गुड़ परसाद दै दूध भत्यूल

          अयूं होलू फुलार हमारा सैंत्यां आर चोलों मा ।

होला चैती पसरू मांगना औजी खोला खोलो मा ।।

ढक्यां मोर द्वार देखिकी फुलारी खौल्यां होला।

फुलदेई के गीत
फुलदेई की शुभकामनाएं

फूलदेई उत्तराखंड का लोक पर्व के बारे में विस्तार से जानने के लिए यहां क्लिक करें।

 

फूलदेई त्यौहार की कहानी जानने के लिए यहां क्लिक करें ।

देवभूमि दर्शन के व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें।

Tag – phuldai image , phuldai wishesh ,phuldai photos , phuldai 2023 , Happy phuldai 2023  ,Chala phulari phulon ko ,song lyrics in hindi